My Book Of Experiences

My book of experiences – 2

Day 2, 2nd January 2019 - Blood is denser than water. Amit Sharma is a neighbour of mine. He's our locality's "Sharma ji ka beta", but he's far away from the mythical "Sharma ji ka beta's" that we found in memes. He is a reckless chap since I have known him, that is, since almost… Continue reading My book of experiences – 2

Advertisements
Poetry

ये अस्पताल

ये अस्पताल मुझे रेलवे स्टेशन सा लगता है, यहाँ के अंजान लोगों में भी कुछ जाना पहचाना सा लगता है! भीड़ यहाँ भी कुछ स्टेशन सी होती है, बेटे को देख माँ यहाँ भी रोती है, यहाँ भी आने वाले मेहमान का इंतज़ार मुस्कुरा कर होता है, यहाँ भी जाने वाले के लिए हर शख्स… Continue reading ये अस्पताल